ITEP Form 2024: सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, अब टीचर बनने के लिए B.Ed नहीं, बल्कि करना होगा ITEP कोर्स

ITEP Form 2024: प्राइमरी टीचर बनने के लिए B.Ed की योग्यता को लेकर चल रही खबरों में एक नया अपडेट आया है। इसका कारण है सुप्रीम कोर्ट का एक फैसला, जिसके बाद अब B.Ed की पाठ्यक्रम पूरी करने वाले लोग प्राइमरी स्कूलों में टीचर नहीं बन सकेंगे।

नई शिक्षा नीति 2020 के अनुसार, नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (NCTE) ने एक नया प्रोग्राम शुरू किया है, जिसका नाम है ‘इंटीग्रेटेड टीचर्स एजुकेशन प्रोग्राम’। इस प्रोग्राम के लिए आवेदन फार्म उपलब्ध हैं और यह एक महत्वपूर्ण विकल्प है टीचर बनने के लिए।

इंटीग्रेटेड टीचर एजुकेशन प्रोग्राम की शुरुआत के बाद अब इसे बीएड डिग्री के बराबर मान्यता दी जाएगी। इस प्रोग्राम में 12वीं के बाद एडमिशन लिया जा सकता है और यह कोर्स कुल 4 साल का है। इसमें दो कार्यक्रम शामिल हैं, एक स्कूल विशिष्ट चरण और दूसरा एक अनुशासन में लेना होता है।

सुप्रीम कोर्ट ने एक महत्वपूर्ण फैसला सुनाया है। इस फैसले के अनुसार, अब शिक्षक बनने के लिए B.Ed पाठ्यक्रम की जगह एक नया कोर्स, यानी "ITEP" (इंटीग्रेटेड टीचिंग एजुकेशन प्रोग्राम), अनिवार्य होगा। यह निर्णय शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा बदलाव लाने की संकेत देता है और उसे एक नई दिशा में ले जाने का प्रयास करता है। ITEP कोर्स का मुख्य उद्देश्य उन छात्रों को शिक्षक बनाना है जो शिक्षा के क्षेत्र में नए और सामर्थ्यवान दृष्टिकोण लाना चाहते हैं।

इस निर्णय की समीक्षा के बाद शिक्षा मंत्रालय की तरफ से इस नए पाठ्यक्रम की तैयारी शुरू की गई है। इसके साथ ही, शैक्षिक संस्थानों और विश्वविद्यालयों को भी इस कोर्स को शुरू करने की तैयारी करने के निर्देश दिए गए हैं। यह नया पाठ्यक्रम शिक्षकों के लिए एक नया मार्ग प्रदान करेगा और उन्हें शिक्षा क्षेत्र में अधिक उत्कृष्टता और सामर्थ्य प्राप्त करने का अवसर देगा।

ITEP Form 2024: राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के लागू हो जाने के बाद, प्राइमरी टीचर बनने के लिए आवश्यक योग्यता में बड़ा बदलाव हुआ है। अब बीएड पास करने वाले उम्मीदवार प्राइमरी टीचर के लिए मान्य नहीं माने जाएंगे। इसके बजाय, उम्मीदवारों को आईटीबीपी कोर्स करना होगा।

पहले, अभ्यर्थी 3 साल तक ग्रेजुएशन करते थे और फिर 2 साल की बीएड डिग्री प्राप्त करके टीचर के लिए योग्यता हासिल करते थे। लेकिन अब 4 साल में ही उम्मीदवार टीचर बनने के योग्य हो जाएंगे, आइटीईपी कोर्स करने के बाद। यह योग्यता केवल प्राइमरी टीचर के लिए ही मानी जाएगी।

ITEP Program के लिए आवेदन फार्म शुरू

12 जून 2024 को बोर्ड द्वारा आयोजित की जाएगी प्रवेश परीक्षा, जिसके लिए 4 साल के आइटीईपी कोर्स में एडमिशन लेना है। योग्य उम्मीदवार 30 अप्रैल तक अपना आवेदन फॉर्म भर सकते हैं। उसके बाद, एप्लीकेशन कलेक्शन 2 मई से 05 मई 2024 तक किया जाएगा।

परीक्षा का आयोजन देश भर में निर्धारित विभिन्न केंद्रों पर किया जाएगा। आइटीईपी परीक्षा के लिए प्रश्न पत्र हिंदी, अंग्रेजी, हाशमी, बंगाली, पंजाबी, तमिल, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, मराठी, ओड़िआ, तेलुगू और उर्दू भाषा में होगा।

ITEP Program के लिए आवेदन कैसे करें

ITEP के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू हो गई है. इन पदों के लिए आवेदन पत्र नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की वेबसाइट nta.ac.in के जरिए भरा जा सकता है। आवेदन की अंतिम तिथि 30 अप्रैल है और आवेदन पत्र ऑनलाइन माध्यम से भरे जायेंगे। अन्य सूचनाओं के लिए आप एनटीए की वेबसाइट पर अपलोड किए गए आधिकारिक नोटिफिकेशन को डाउनलोड करके जरूर पढ़ें।

Previous Post Next Post

फास्टर अप्डेट्स के लिए जुड़िये हमारे टेलीग्राम चैनल से - यहाँ क्लिक करिये
CLOSE ADVERTISEMENT