Bihar STET Exam Cancelled Notice: Bihar STET Exam Cancelled, इन जिलों की परीक्षाएँ प्रभावित

Bihar STET Exam Cancelled: बिहार में आयोजित होने वाली माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) को रद्द कर दिया गया है। यह फैसला राज्य परीक्षा समिति ने कुछ जिलों में हुई अनियमितताओं और परीक्षा में आई तकनीकी समस्याओं के कारण लिया है। इस निर्णय से अभ्यर्थियों में निराशा और असंतोष का माहौल है।

जानकारी के अनुसार, पटना, गया, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, दरभंगा और पूर्णिया जिलों में परीक्षा के दौरान तकनीकी खामियों के चलते कई उम्मीदवार परीक्षा नहीं दे सके थे। इसके अलावा, कुछ स्थानों पर परीक्षा सामग्री में भी गड़बड़ी पाई गई थी। इन सभी कारणों को ध्यान में रखते हुए परीक्षा समिति ने यह निर्णय लिया है।

Bihar STET Exam Cancelled

बिहार में आयोजित होने वाली माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) को तकनीकी खामियों और अनियमितताओं के कारण रद्द कर दिया गया है। इस निर्णय से पटना, गया, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, दरभंगा और पूर्णिया जिलों के अभ्यर्थियों पर सबसे अधिक प्रभाव पड़ा है। राज्य परीक्षा समिति ने परीक्षा के दौरान हुई समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए यह कदम उठाया है।

Bihar STET Exam Cancelled: अभ्यर्थियों में असंतोष

परीक्षा रद्द होने से हजारों उम्मीदवारों में निराशा और असंतोष का माहौल है। उन्होंने कड़ी मेहनत और तैयारी के साथ परीक्षा दी थी, लेकिन तकनीकी खामियों के चलते उनका भविष्य अधर में लटक गया है। शिक्षा विभाग ने आश्वासन दिया है कि जल्द ही नई तिथियों की घोषणा की जाएगी और सभी तकनीकी खामियों को दूर कर परीक्षा को निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से संपन्न किया जाएगा।

राज्य के शिक्षा मंत्री ने बताया कि परीक्षा को रद्द करने का फैसला अभ्यर्थियों के हित में लिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार इस मामले की गहन जांच करवा रही है और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही, जल्द ही नई तिथियों की घोषणा की जाएगी ताकि अभ्यर्थियों को फिर से परीक्षा देने का मौका मिल सके।

इस परीक्षा को रद्द करने का फैसला उन हजारों अभ्यर्थियों के लिए झटका है जो लंबे समय से इस परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। कई छात्रों ने बताया कि उन्होंने कड़ी मेहनत और तैयारी के साथ परीक्षा दी थी, लेकिन तकनीकी खामियों के कारण उनका भविष्य अधर में लटक गया है। 

Bihar STET Exam Cancelled का आयोजन शिक्षकों की नियुक्ति के लिए किया जाता है, और इसमें सफलता प्राप्त करने वाले उम्मीदवार सरकारी स्कूलों में शिक्षण कार्य के लिए योग्य माने जाते हैं। परीक्षा रद्द होने के कारण राज्य में शिक्षकों की कमी की समस्या और बढ़ सकती है।

इसके अलावा, कई छात्रों ने परीक्षा प्रक्रिया में सुधार की मांग की है। उनका कहना है कि तकनीकी खामियों को दूर करने के लिए मजबूत प्रबंधन और निगरानी की आवश्यकता है। इससे भविष्य में होने वाली परीक्षाओं में ऐसी समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।

शिक्षा विभाग ने अभ्यर्थियों से अपील की है कि वे धैर्य बनाए रखें और नई तिथियों की घोषणा का इंतजार करें। विभाग ने यह भी आश्वासन दिया है कि नई परीक्षा तिथियों के दौरान सभी तकनीकी खामियों को दूर किया जाएगा और परीक्षा को निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से संपन्न किया जाएगा।

इस बीच, परीक्षा रद्द होने के विरोध में कई छात्र संगठनों ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन भी किया है। वे सरकार से इस मामले में त्वरित और उचित कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। उनके अनुसार, बार-बार परीक्षा रद्द होने से छात्रों का मनोबल गिरता है और उनकी मेहनत व्यर्थ जाती है।

Bihar STET Exam Cancelled: छात्रों का विरोध

इस बीच, परीक्षा रद्द होने के विरोध में कई छात्र संगठनों ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन भी किया है। वे सरकार से इस मामले में त्वरित और उचित कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि तकनीकी खामियों को दूर करने के लिए मजबूत प्रबंधन और निगरानी की आवश्यकता है, ताकि भविष्य में होने वाली परीक्षाओं में ऐसी समस्याओं का सामना न करना पड़े। छात्र संगठनों का कहना है कि बार-बार परीक्षा रद्द होने से छात्रों का भविष्य प्रभावित हो रहा है और उनके करियर पर अनिश्चितता का साया मंडरा रहा है।

Previous Post Next Post

फास्टर अप्डेट्स के लिए जुड़िये हमारे टेलीग्राम चैनल से - यहाँ क्लिक करिये
CLOSE ADVERTISEMENT